http://WWW.PANDITMUKESHBHARDWAJ.COM
PTMUKESHBHARDWAJ 58db87deaa36f7053cb17ee0 False 45 5
OK
background image not found
Updates
update image not found
आधुनिक युग में सभी लोग घर बनाते समय वास्तु का पूरा ध्यान रखते है। माना जाता है कि यदि घर में हर चीज वास्तु शास्त्र के अनुसार हो तो खुशहाली आती है और वास्तु के अनुसार न हो तो घर में दुख तथा अनिद्रा, पेट दर्द, डायबटीज़, ब्लडप्रेशर जैसी गंभीर बिमारियों का वास होता है। वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में शौचालय बनाने के लिए सबसे उत्तम स्थान दक्षिण-पश्चिम और दक्षिण दिशा है। घर में शौचालय या बाथरूम कभी भी सीढ़ियों के नीचे बनाना वास्तु शास्त्र की दृष्टि में अच्छा नहीं माना जाता है। स्नान करते समय व्यक्ति का चेहरा पूर्व दिशा में रहना शुभ है। टॉयलेट में बैठते समय अपना मुँह पूर्व की ओर रखें। ऐसा करने से गैस, कब्ज आदि की शिकायत नहीं होती है। बजाए इसके, जो व्यक्ति दक्षिण व पश्चिम की तरफ मुँह करके बैठता है, उसे नाना प्रकार की बीमारियों से पीड़ित होना पड़ सकता है। Vastu Expert - Pt. Mukesh Bhardwaj
http://WWW.PANDITMUKESHBHARDWAJ.COM/-/b56
2 3
false